Motivation stories in hindi with moral-चाहने से क्या नहीं मिल जाता।

Motivation stories in hindi with

moral-चाहने से क्या नहीं मिल जाता।

Motivation  stories in hindi with moral-चाहने से क्या नहीं मिल जाता।
किसी ने बड़ी कमाल की बात कही है - चाहने से क्या नहीं मिलता।

             '' आकाश दो तिहाई काश है
                  और आसमान आधा आश है ''

मै हूँ abhi
लेकर आया हूं बहुत ही मजेदार कहानी।


शीर्षक - चाहने से क्या नहीं मिलता।


एक बार एक चिड़िया खेत में अपना घोंसला बनाकर रहते थे, उसके बच्चे भी वही रहते थे।
वह रोज सुबह जाती और शाम को आती।


एक शाम को वह वापस आई तो उसके बच्चे उदास थे।
चिड़िया ने पूछा बच्चों क्या हुआ?



तो एक बच्चे ने बताया कि आज किसान आया था और वो कह रहा था कि वो कल अपने बेटों को भेजेगा फसल काटने के लिए तो अब हम कहा रहेंगे। हमारा घोंसला उजड़ जायगा।

तो चिड़िया ने कहा कि बच्चों उदास मत रहो, सब ठीक होगा तुम परेशान ना हो। कल कोई नहीं आने वाला।

बच्चों ने सोचा कि माँ बोल रही तो सही ही बोल रही होगी।
अगली सुबह सच मे कोई नहीं आया।

कुछ दिन बीत गए।


एक शाम फिर से वो आई तो देखा कि बच्चे उदास है।
बच्चों ने बताया कि फिर से वो किसान आया था और उसने बोला कि कल मजदूरों को भेजेगा फसल काटने के लिए, माँ अब हमें यहा से जाना होगा।

चिड़िया ने बच्चों कहीं जाने की जरूरत नहीं है, कोई नहीं आने वाला तुम निश्चिंत रहो।

अगली सुबह फिर से कोई नहीं आया।
जो बात माँ ने कही वो फिर से सच हो गयी।

कुछ दिन बीत गए।

फिर से चिड़िया पहुँची तो देखा कि उसके बच्चे उदास है, बच्चों ने बताया कि माँ आज फिर से किसान आया था, और आज कह रहा था कि कल वो खुद आएगा फसल काटने।

तो चिड़िया ने कहा कि बस,
अब यहां से उड़ने का वक़्त गया है।



चिड़िया उन बच्चों को लेकर के गयी, उसने पहले से किसी और जगह पर घोंसला बना लिया था, वहा पर बच्चे जाके रहने लगे।

अगली सुबह सच मे किसान आया, और उन बच्चों ने देखा कि फसल काट दी गयी है।

तो उन्होने अपनी माँ से पूछा कि, माँ आपने जो बताया वो एकदम सच रहा, जब आपने कहा कि वो नहीं आएगा तो वो नहीं आया, जब आपने कहा कि वो आएगा तो वो गया, आपको कैसे पता चल गया कि किसान आने वाला है?

तो चिड़िया ने कहा, कि मुझे यह बात सिर्फ इस बात से पता चला कि किसान ने कहा कि वह खुद आएगा।


Motivation  stories in hindi with moral-चाहने से क्या नहीं मिल जाता।



निष्कर्ष -

इस दुनिया में जब तक आप दूसरों के भरोसे रहेंगे आपका कुछ नहीं होने वाला जिस दिन आप खुद के भरोसे रहने लगेंगे।
उस दिन आप अपनी दुनिया बदल देंगे।


मै हूँ abhi
यदि यह कहानी आपको अच्छी लगी तो हमें कमेंट करके बताए। धन्यवाद।

Post a Comment

0 Comments