Child Story in Hindi-एक किसान और उसका गधा।

Child Story in Hindi - एक किसान और उसका गधा ।

उस दिन हमारी सारी परेशानियाँ ख़त्म हो जायेगी, जिस दिन हमें यकीन हो जाएगा की हमारा सारा काम ईश्वर की मर्जी से होता है !!

शीर्षक - एक किसान और उसका गधा। 


Child Story in hindi-एक किसान और उसका गधा।

एक दिन किसी किसान का गधा कुएं में गिर जाता है,सभी जानवर दयालुता की भावना से रोने लगे जबकि किसान यह सोच रहा था कि अब क्या किया जाए?

अंततः उसने निर्णय लिया कि वह जानवर बहुत बूढ़ा हो गया और वैसे भी उसे उस कुएं को भर देना है तो उसने सोचा कि मुझे उस कोने से उस गधे को निकालने का कोई फायदा नहीं।

उसने अपने पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाया उस कुए को भरने के लिए बाजू की जमीन से मिट्टी खोद कर निकालने लगा और कुएं में डालने लगा।

उस कुए को भरने के लिए उसके पड़ोसी ने भी हाथ लगाना शुरू किया।

वह भी पास की जमीन से मिट्टी खोलकर निकालने लगे और कुए में डालने लगे।

कुएं में गिरा गधा यह सब देखकर डर गया और उसे समझ आ गया कि वह ज्यादा देर तक जिंदा नहीं रह पाएगा।


यह जानते ही वह जोर जोर से रोने लगा परंतु उसकी मदद करने के लिए कोई नहीं आया।

ऊपर पड़ोसियों की मदद से कुएं में मिट्टी डालने का काम बहुत तेजी से हो रहा था किसान और पड़ोसियों ने यह मान लिया था कि अब तक गधा मिट्टी में दब गया होगा।

तब उन्होंने कुएं में झांक कर देखा तो वह आश्चर्यचकित रह गए उन्होंने देखा कि जब भी वह कुएं में मिट्टी डालते हैं तो वह गधा जो है वह मिट्टी को झटक कर जमीन पर गिरा देता है।


ऐसा करने की वजह से उन्होंने देखा कि कुएं में मिट्टी का ढेर बन गया था और गधा ऊपर आ रहा था।

देखते देखते किसान के द्वारा डाली हुई मिट्टी का ढेर इतना ऊपर हो गया कि गदहा खुद कुएं से बाहर निकल गया।


सीख:-


  • दोस्तों जिस तरह से इस कहानी में गधे पर मिट्टी डाली जा रही ठीक उसी तरह हमारी जिंदगी में भी बहुत मुश्किलें आती हैं चाहे वह निजी जिन्दगी मे हो या फिर अपने कैरियर मे या फिर ये परेशानियाँ किसी भी छेत्र मे हो सकती है इस मुश्किल को सुनहरे अवसर मे बदलना हमारे हाथ मे है।
  • आप आई हुई हर तकलीफ या मुसीबत को पकड़ कर बैठ नहीं सकते जिस प्रकार गधे ने अपने ऊपर डाली हुई मिट्टी को उस कुएँ से निकलने का रास्ता बनाया उसी तरह हमारे ऊपर आई हुई हर मुसीबत को सकारात्मक होके उस मुसीबत से निकलना चाहिए हम जिन्दगी मे एक ही मुश्किल से हारकर कभी आगे नहीं बढ़ सकते है।


दोस्तों जीवन मे आयी परेशानियों से डर कर हम भाग नहीं सकते हैं बल्कि उनका सामना करके एक एक कदम आगे बढ़ते रहने का प्रयास किजिये।


जिन्दगी मे कभी भी किसी को बेकार मत समझना बंद पड़ी घड़ी भी दिन भर मे दो बार सही समय बताती है किसी की बुराई करने वाले इंसान की मिशाल उस मखी की तरह है जो सारे खूबसूरत जी्‍सम को छोरकर जख्म पर ही बैठती है।


टूट जाता है गरीबी मे वो रिश्ता जो खास होता है,  हज़ारों यार बनते हैं जब पैसा पास होता है,  देखो तो सारी दुनिया रंगििन है  भिंगी पलको से तो आइना भी धुंधला लगता है।

जल्द मिलने वाली चीजे बहुत दिन तक नहीं टिकती और जो चीजे ज्यादा दिन तक चलती है वो जल्दी नहीं मिलती। 

ये child story in Hindi आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके बताए और इस कहानी को ज्यादा से ज्यादा शेयर करे।

Post a Comment

0Comments